The Psychology of money

दोस्तों अगर आपको पैसे बनने की जादू की छड़ी मिल जाए, Then कौन पैसा नहीं बनना चाहेगा Right, तो दोस्तों इस बात पर कोई शक नहीं कि आप पैसा बनाना चाहते है मगर ये समरी जो ये मुझे जादू की छड़ी जैसे लगी.. समरी का Title है The Psychology of Money Timeless Lessons on wealth, Greed and Happiness जिसे लिखा है “Morgan Housel” ने, जैसे की समरी का Title है ये actuall में timeless lessons ही हमे देती है और केवल मनी की साइकोलॉजी ही नहीं बताती बल्कि और भी कई Psychologycal lesson हमे देती है at thi एन्ड ऑफ़ समरी सुनकर ऐसा लगता है जैसे बहुत कुछ हासिल हो गया हो |

तो क्या दोस्तों आप इस समरी के लिए रेडी है जिसे बनाया है “Dhani Books” ने जहां आप ऐसे ही फाइनेंसियल बुक्स से करोड़ों की नॉलेज ले सकते हैं even अपने दोस्तों के साथ भी इस समरी शेयर भी कर सकते है, तो मैं हु भरत आपके साथ इस Millionaire जर्नी में, तो चलिए बिना किसी देरी के समरी ko suru करते है |

Morgan Housel एक investore & authore है, Morgan एक investement fund, the collaborative fund के पार्टनर भी है जिसे टोटल 14 लोगो ने मिलकर शुरू किया था उन्होंने Wallstreet जनरल के लिए भी कई आर्टिकल लिखे थे, और वो तीन किताबों के ऑथर भी रहे है तो आइये उनके experience उनके लिखी इस बुक से इस समरी को सुरु करते है, The Psychology of Money by Morgan Hausel,x

तो दोस्तों अगर आपको multiple Option दी जाए और कहा जाए कि आपको इनमे से कोई एक Option choose करना है Then आप क्या option choose करेंगे? एक आलिशान बंगलो, 5 बिलियन डॉलर, या फ्रीडम या फिर अछि Reputations…क्या आपको लगता की आपने अपनी लाइफ में ढेर सारा पैसा बना लिया है? क्या आप जानना चाहते है की 84.5 बिलियन कैसे कमाया जाए. अगर ये सारे सवाल आपके दिमांग में घूमते रहते है then आप इस समरी को पूरा जरूर सुनें क्यों ये आपको बताएगी कि कैसे आप फाइनेंसियल फ्रीडम की जर्नी कैसे achieve कर सकते है और इसी के साथ आपके हर एक सवाल का जवाब भी मिल जायेगा तो आइये इसी के साथ इस summary को पहले चैप्टर से सुरू करते है|

The greatest show on earth author morgan housel जब collage में थे तब पैसा कमाने के लिए valet की जॉब किया करते थे, जहां वो जॉब करते थे वहा loss-angel एक आलीशान महँगा होटल था, एक बार वहा एक गेस्ट आए जो अक्सर उस होटल में आए करते थे, वो एक लड़का technology executive था और काफी तेज दिमाग वाला था सिर्फ 20 साल की उम्र में ही उसने wifi router के लिए E-Component डिज़ाइन करके उसे patent करवा लिया था उस young millionaire ने कई शारी Tech कंपनी स्टार्ट की और बात में उन्हें बेच दिया, वो काफी successful था लेकिन पैसे के मामले में वो थोड़ा unlucky था वो लड़का जहां भी जाता अपने सात नोटों की गड्डी रक्खता था |

और जो भी उसके साथ बात करता उसे वो ये पैसे दिखता था वो शराब पीकर बड़ी-बड़ी डींगे मारता था, एक दिन उस आदमी ने गाड़ी पार्क करने वाले गार्ड को बुलाया और उसे कुछ नोट देकर पास वाली दुखन में जाने का आर्डर दिया, गार्ड को नोट के बदले दुकान वाले ने 1000 dollor सोने के सिक्के दिए उस young technician ने गोल्ड कॉइन का क्या किया होगा…उसने वो गोल्ड कोइन्स समुंदर में पेक दिए. उसने अपने दोस्तों को भी बुला लिया और सबने मिलकर वो कोइन्स समुंदर में ऐसे फेक दिए जैसे कोई तालाब में पत्थर फ़ेक था है, उसके कुछ दिनों बाद वो यंग मिलियनेयर गलती से एक होटल के लैंप से टकरा गया मैनेजर ने उसे कहा कि लैंप की कीमत 500 डॉलर है |

तो उस आदमी ने तमाशा खड़ा कर दिया उसने अपने जेब से पैसे निकल के मैनेजर के मुंह पर दे मारे और बोला ये ले 5000 डॉलर, अब दुबारा मुझे अपनी इ सकल मत दिखाना, शायद आप सोच रहे होंगे की मात्र एक कहानी है, कोई सच नहीं आप शायद सोच रहे होंगे की यंग मिलियनेयर का क्या हुआ होगा, लेकिन ये स्टोरी एक दम सच है, इस किताब में आप ऐसे ही और स्टोरी जानेगे, लेकिन इस स्टोरी के लास्ट में यंग मिल्लीवारे का दिवाला निकल जाता है, उसने कुछ ही सालों में जो कुछ कमाया था वो सब कुछ उड़ा दिया उसके सारे पैसे खत्म हो गए और इसके यार दोस्त भी उसे छोड़ के चले गए, देखा आपने दोस्तों पैसे से आप सब कुछ तो खरीद सकते है, लेकिन अच्छा व्यवहार, संस्कार और शांति नहीं खरीद सकते |

चलिए में आपके साथ एक और इंटरेस्टिंग स्टोरी शेयर करता हु रोनाल्ड रीड की वो एक दरबान थे वो एक छोटे से गाऊ में पैदा हुए और पले बड़े वो अपने परिवार का पहला इंसान था जिसने हाई स्कूल तक पढ़ाई की थी. और उससे भी बड़े मजेदार की बात तो ये थी की वो रोज लोगो से लिफ्ट लेके स्कूल पहुंचता था. रोनाल्ड रीड एक सादारण जिंदगी जी रहा था. 25 साल उसने एक गैस स्टेशन में गाडी रिपेयर करने का काम किया. उसने जैसी पने में 20 सालों तक Floor की सफाई का काम किया और 38 साल की उम्र में Ronald ne ek 2 बैडरूम का घर खरीदा usane wo ghar $12000 में खरीदा और अपनी पूरी लाइफ उस घर में गुजारी डोनाल्ड की शादी भी हुई पर कोई बच्चा नहीं हुआ jab wo 50 का हुआ तो उसकी वाइफ चल बसी थी उसके पड़ोसी का कहना था कि रोनाल्डो की मनपसंद हॉबी लकड़ियां काटना था जिस दिन रोनाल्ड ne न्यूज़ हैडलाइन बनाई वह दिन था उसकी मौत का ye 2014 की बात थी वह 92 साल का था |

रोनाल्ड रीट के पास 8 मिलियन डॉलर the उसने 2 मिलियन डॉलर अपने 2 सौतेले बच्चों के लिए छोड़े थे और 6 मिलियन डॉलर एक लोकल हॉस्पिटल और लाइब्रेरी को डोनेट कर दिए थे अगर आप विकीपीडिया में रोनाल्ड रीट के बारे में सर्च करेंगे तो उसमें आपको पता चलेगा कि वह एक चौकीदार गैस स्टेशन अटेंडेंट इन्वेस्टर समाज सेवक और मिलेनियर था लेकिन यह कैसे हुआ इसमें कोई Trick नहीं है डोनाल्ड ने कोई लॉटरी नहीं जीती थी और ना ही उसे कोई खानदानी पैसा मिला था रोनाल्ड इतने सालों से पैसा बचाकर ब्लू स्टॉक चिप्स में इन्वेस्ट कर रहा था बस इतनी सी बात थी |

wo एक-एक पैसा सेव करता था यहां तक कि उसने कभी इंटरेस्ट भी नहीं निकाला था उसने अपनी शेविंग को सालों साल कंपाउंड किया था और उसकी मौत तक उसके पास 8 मिलियन डॉलर रकम जमा हो चुकी थी क्या कंपाउंडिंग ka concept जानते हैं chaliye इसके liye hum aapke sabhi ke liye The compound Effect Book Summary banayenge jo aapko bahut jald humare dhanibooks channel pr mil jayengaa… chaliye iske बारे में हम बाद में बात करेंगे लेकिन उससे पहले आपको एक और स्टोरी सुननी चाहिए

अब जरा एक नजर डालते हैं उस आदमी पर जो रोनाल्ड रीट से बिल्कुल हटकर था richard fiuse kon मैरिल लिंच में एक एग्जीक्यूटिव था उसने हावर्ड से MBA किया था और वह 40 की उम्र में रिटायर हो गया था एक बिजनेस मैगजीन की अंडर 40 मोस्ट सक्सेसफुल पीपल लिस्ट में उसका नाम भी शामिल था कनेक्टिकट में Richard का 18 थाउजेंड स्क्वायर फीट का बंगला था जिसमें दो स्विमिंग पूल दो लेफ्ट 7 garej और 11 बाथरूम थे इस बंगले की मेंटेनेंस का खर्चा ही $90 thousand dollor पर मंथ tha. मेंटेनेंस में रिचर्ड ने काफी बड़ा उधार लिया था लेकिन फिर उसकी किस्मत ने करवट बदली 2008 में फाइनैंशल क्राइसिस आया और रातों-रात रिजल्ट फुटपाथ पर आ गया उसी साल उसने बैंक karpusy के लिए फाइल किया इन दोनों यंग millionaire रोनाल्ड reed richard की कहानी से हमने क्या सीखा फाइनेंशियल सक्सेस कोई साइंसनहीं है, बल्कि फाइनेंस ही एक ऐसी फील्ड है |

जहां रोनाल्ड रीड जैसे लोग भी सक्सेस हो सकते हैं एक हम्बल एजुकेशन और एक्सपीरियंस वाला इंसान सर्जन आर्किटेक्ट इंजीनियर नहीं बन सकता लेकिन फाइनेंस में रोनाल्ड Reed जैसा मामूली आदमी भी काफी बढ़िया अचीवमेंट कर सकता है फाइनेंशियल सक्सेस एक सॉफ्ट स्किल है जिससे कोई भी सीख सकता है एक यूनिk फील्ड है जहां आपकी नॉलेज से ज्यादा आप कैसे बिहेव करेंगे यह ज्यादा मायने रखता है फाइनेंस की फील्ड पैसे किस साइकॉलजी समझने का तरीका है अब चाहे जहां से भी हो जैसे भी हो पैसा आपका दिमाग बड़ा बना देता है बस आप को अलर्ट रहने की ओर ध्यान देने की जरूरत है हर कोई अमीर बन सकता है पर हर कोई हंबल नहीं होता | in stories और inse मिली lession के बाद हम आगे बढ़ते हैं और समझते हैं नेक्स्ट चैप्टर को |

Never In off when guard के founder जॉन सी गूगल ne ek baar ek स्टोरी सुनाई थी ek billionaire ke ghar pr पार्टी हो रही थी एक कोने में कट बैंक्वेट और josif haller बैठे थे दोनों अपने होश की इनकम की बात कर रहे थे जो कि एक headge फंड मैनेजर था कट ने कमेंट किया कि उस आदमी की 1 दिन की कमाई भी josif ke नोबल cash 2002 ki पूरे साल की बिक्री से भी ज्यादा है is pr josif ne कमाल का जवाब दिया उसने कहा कि उसके पास वह है जो हेज फंड मैनेजर के पास कभी नहीं होगा और वह है in off वैसे अभी आपकी सोर्स ऑफ इनकम क्या है क्या बोल सकते हैं क्या आपके पास इनफ मनी है चलिए इन दोनों लोगों की स्टोरी से जानते हैं रजत गुप्ता कोलकाता का एक गरीब लड़का था वह ek anaad था लेकिन 45 साल की उम्र में ही वह SEO बन गया रजत दुनिया की जानी-मानी कंसलटिंग फर्म में से एक makenji ke SEO थे साल 2007 में जब वह कंपनी से रिटायर हुए तो उसके बाद उन्हें यूनाइटेड नेशंस एंड thi वर्ल्ड इकोनामिक फोरम में एक बड़ी इंपॉर्टेंट पोजीशन मिली रजत पांच अलग-अलग कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर भी थे कोलकाता की झुग्गी झोपड़ियों से निकलकर उन्होंने सबसे

अमीर बिजनेसमैन बन कर दिखाया 2008 में रजत गुप्ता की वर्त 100 मिलियन डॉलर ho चुकी थी लेकिन वह अपने पैसे से कभी भी सेटिस्फाइड नहीं हुए वह एक seta millionaire बन चुके थे तो अब उन्हें एक billionaire बनना था wo उस सर्कल में आना चाहते थे फिर रजत गोल्डमैन सैक्स के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर बने उन्होंने बिलेनियर बनने के लिए खुद को आगे बढ़ाया 2008 में गोल्डमैन सैक्स इकोनामिक क्राइसिस के द्वार में थी warren buffe ne कंपनी को बचाने के लिए उसमें 5 बिलियन का इन्वेस्ट करने का डिसीजन लिया एक बोर्ड member होने के नाते रजत गुप्ता को ही यह बात पब्लिक से पहले पता चल गई थी warren की फंडिंग से बेशक कंपनी के स्टॉक ऊपर जाने के चांस थे बोर्ड मीटिंग कॉल के 16 सेकंड बाद रजत ne एक ही स्मार्ट मैनेजर राज राजारत्नम को कॉल किया ye कॉल कभी भी रिकॉर्ड नहीं हुई थी पर राज ने तुरंत ही गोल्डमैन के 175000 शेयर खरीद liye कई घंटों बाद warren की डील की खबर पब्लिक तक पहुंची गोल्डमैन के स्टॉक एकदम se upar चड़ gaye राज ने कुछ ही घंटों में एक मिलियन डॉलर कमा लिए और प्रॉसिक्यूटर बताया कि रजत ने टोटल 17 मिलियन डॉलर का प्रॉफिट कमाया ise ek इनसाइडर ट्रेडिंग का एक classic case mana जाता है

रजत गुप्ता ने अपनी सारी दौलत से हाथ धोया और उन्हें जेल से जाना पड़ा और साथ ही उन्होंने अपनी रेपुटेशन bhi गवाही रजत के पास पहले से 100 मिलियन थे तो उन्हें एक बिलियन डॉलर और क्यों चाहिए थे उनके पास पहले से ही धन दौलत फिल्म पावर ऑफ फ्रीडम थी लेकिन लालच में आकर उन्होंने सब कुछ गवा diya kyuki रजत गुप्ता के पास inf ka sense nahi tha..

हम is स्टोरी से तीन चीजें सीख सकते हैं पहला लेसन ye hai ki सबसे मुश्किल और फाइनैंशल स्केल है और ज्यादा दौलत को जमा करने से खुद को रोक ना ज्यादा पावर ज्यादा fem और ज्यादा पैसे का लालच सेटिस्फेक्शन से ज्यादा एंबीशन को बढ़ावा देता है इस पॉइंट पर आकर जब आप आगे नहीं बढ़ते हैं तो आपको लगता है जैसे आप पीछे जा रहे हैं और फिर आगे बढ़ने के लिए आप बड़े से बड़ा रिस्क लेते हो मॉडर्न capitalijim दो चीजों में बहुत अच्छा है दौलत के साथ-साथ आप लालची भी होते जाते हैं इंसान अपनी हद भूल जाता है उसे समझ नहीं आता कि कहां पर रुकना है लेसन नंबर 2 सोशल कंपैरिजन यानी दूसरों से तुलना एक प्रॉब्लम बन जाती है मान लीजिए कि फुटबॉल प्लेयर साल के $500000 कमाता है उसके पास पहले से ही काफी पैसा है पर अगर हम उसकी तुलना माइक ट्राउट से करें जिसका 430 मिलियन डॉलर साल के हिसाब से 12 साल का कॉन्ट्रैक्ट है तो हमें यह प्लेयर उसके सामने एकदम गरीब लगेगा अब maan lo ki ye hedge फंड मैनेजर जो कि 36 मिलीयन डॉलर कमाता है पर 2018 में टॉप 10 हाईएस्ट paid हेज फंड मैनेजर से कम से कम 345 मिलियन डॉलर साल की kamaa te थे to हमें ye 36

मिलियन उसके मुकाबले काफी कम लगेंगे लेकिन अगर टॉप 10 hedge फंड मैनेजर जो साल के 340 million-dollar कमा रहे हैं wo अपनी तुलना अगर टॉप 5 से करें तो टॉप फाइव हेज फंड मैनेजर 770 million डॉलर कमाते हैं और अगर टॉप फाइव खुद की तुलना वॉरेन बुफे से करें जो कि 2018 मैं उनसे 3.5 बिलीयन डॉलर ज्यादा अमीर है और अगर warren buffe jeff bezos लेवल पर आना चाहें जिनकी worth 2018 में 24 billion dollor थी तो | तो यहां देखा आपने किस सोशल कंपैरिजन की दीवार बहुत ऊंची है कोई भी इसे छू नहीं सकता अगर आप भी इस खेल में शामिल हो जाओ कि मैं अपने दोस्तों से इतना अमीर होना चाहता हूं तो आप कभी नहीं जीत सकते क्योंकि जीतने और पैसा कमाने की कोई लिमिट नहीं है कोई पॉइंट नहीं जहां आपको inoff लगे और आप सेटिस्फाइड फील करो जीतने का एक ही तरीका है कि लड़ो ही मत मान लो कि आपके पास काफी पैसे हैं चाहे आपके आसपास के लोग और की चाहत में पागल हुए जा रहे हो लास वेगस के एक डीलर ने एक बार कहा था कि कसीनो में जीतने का एक ही तरीका है घुसते ही बाहर निकल जाओ सोचो आप एक excutive विलेज की पार्टी में hai. आप और आपके दोस्त डिस्कस कर रहे हैं कि कौन सबसे अमीर

है किसके पास सबसे बड़ा घर है और कौन सबसे ज्यादा फेमस है और किस से लोग सबसे ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन आप देखेंगे कि winner कोई भी एक नहीं होगा जीतेगा वही जो अपने आप से सेटिस्फाइड है विवेक छोटे से घर में प्यार करने वाली फैमिली के साथ एक हंसी खुशी की एक खुशहाल जिंदगी जी रहा है lesson नंबर 3 कुछ चीजें पैसे fem or power se badakar होती हैं चाहे आपके पास एक कितना ही ज्यादा क्यों ना हो यह बातें रजत गुप्ता ने जेल से छूटने के बाद the न्यूयॉर्क टाइम्स के अपने इंटरव्यू में कही थी उनसे जब पूछा गया कि उन्होंने इस घटना से क्या सीखा तो वह यह बोले कि किसी भी चीज से ज्यादा अटैचमेंट मत रखो चाहे वह आपकी रेपुटेशन हो या आपकी अचीवमेंट हो यह चीज है कोई मैटर नहीं करती इस हादसे ने मेरी पूरी रेपुटेशन बर्बाद करके रख दी है लेकिन मैंने अब सीख लिया है कि मुझे इससे भी बहुत ज्यादा अटैचमेंट नहीं रखनी है रजत गुप्ता खुद को बचाना चाहते थे वह अपने किए की सफाई दे रहे थे वह खुद को ही तसल्ली दे रहे थे कि उनकी रेपुटेशन अब उनके लिए और मायने नहीं रखती लेकिन उनका कहना गलत tha

रेपुटेशन बेश कीमती है फ्रीडम बेश कीमती है परिवार और दोस्त भी बेश कीमती है लोगों को प्यार करना और बदले में उनका प्यार पाना भी बेश कीमती है खुशियां बेश कीमती है लेकिन इस सब पाने का एक ही तरीका है आप अपनी had samje … aapko याद रहे कि कब रिस्क लेने हैं और कब inoff का मतलब inoff है और is इंपॉर्टेंट लर्निंग को सीखने के बाद पढ़ते हैं नेक्स्ट चैप्टर की ओर

Compounding compounding एक filed से सीखी हुई बातें हमें दूसरी फील्ड में काम आती है क्या आपको पता है कि बहुत पहले आइस एज क्यों आया था यह कुछ कुछ उसी तरह है जैसे इन्वेस्टमेंट में कंपाउंडिंग आपके पैसे पर ग्रो करती है 19वीं सेंचुरी में जाकर साइंटिस्ट इस बात पर agree हुए थे कि धरती में कभी आइस एज आया था इसका सबूत इतने करीब था क्या आसानी से नजरअंदाज कर लिया जाता था धरती में सिर्फ एक ही आइस एज नहीं आया बल्कि हमारी पृथ्वी ने पांच आइस एज देखे हैं जिनकी डेट कहां मास एक्यूरेट अंदाजा लगा सकते हैं क्या aap soch सकते हैं कि पूरी दुनिया को बर्फ से कवर करने बर्फ पिघलने और फिर बर्फ से ढक दें पर कितनी एनर्जी की जरूरत पड़ेगी to ye घटना 5 बार हो चुकी है लेकिन आइस एज आया ही क्यों आइस एज के पीछे की वजह क्या है इसके बारे में बहुत से theory hai. एक theory के हिसाब से माउंटेन रेंज में हलचल होने की वजह से क्लाइमेट me चेंज आया एक दूसरी theory कहती है ki आइस एज धरती का नेचुरल वातावरण है जिसमें ज्वालामुखी फटने से बदलाव आया है हालांकि ye theory सिर्फ एक आइस एज को explain करती है ना कि पांचों को 1900 की शुरुआत में एक सरवन साइंटिस्ट milutoon milan kovik ne

सोलर सिस्टम में धरती की पोजीशन को स्टडी किया और वह इस नतीजे पर पहुंचा कि सूर्य और चंद्रमा की ग्रेविटेशनल ताकत का प्रभाव पृथ्वी की दूरी पर पड़ता है उनको बिकने कहा कि कई बार ऐसा भी होता है कि पृथ्वी अपनी धुरी पर कुछ ज्यादा ही झुक जाती है jisase ise नार्मल से ज्यादा सोलर रेडिएशन मिलता है पृथ्वी के हेमिस्फीयर में आने वाले बदलाव के चलते बहुत ज्यादा ठंड हो गई जिससे पूरी पृथ्वी बर्फ की मोटी चादर से ढक गई थी

wallage mir kopin जो कि एक रशियन मीटरोलॉजिस्ट है उन्होंने इस theory में कंडीशन जोड़ी है उन्होंने कहा कि अब नॉर्मल टिल्ट की वजह से धरती पर गर्मियों के मौसम में भी ठंड बढ़ गई थी ye उस तरह की गर्मी थी जिसमें इतनी गर्मी नहीं होती कि पूरी बर्फ को पिघला सके गर्मियों के बाद भी धरती के कुछ हिस्से बर्फ से ढके रहे जिससे बर्फ को आने वाली सर्दियों में भी टिके रहने में आसानी हुई साल दर साल इसी तरह बर्फ के ऊपर बर्फ की परतें जमा होती रही जब तक की पूरी पृथ्वी बर्फ से ढक नहीं गई

पर इस तरह aice age aaya. समझा आपने कंपाउंडिंग का concept भी कुछ ऐसा ही है मान लो आपने अपनी एनुअल सैलेरी का 10 परसेंट इंडेक्स फंड में जमा करना शुरू किया और आपकी एनुअल इंटरेस्ट रेट 10% है तो अगले साल आपके पास आपकी सैलरी का 10 परसेंट 10% इंटरेस्ट रेट के साथ होगा फिर आप 2022 तक अपनी सैलरी का 10% जमा करते गए हर साल आप 10% जोड़ रहे हैं और हर साल आपका 10% इंटरेस्ट रेट भी ग्रो कर रहा है अगर आप इस पैसे को अगले 10 साल तक नहीं निकालते हैं तो आप millionaire ban jayenge..aice age भी धीरे-धीरे बर्फ के जमा होने से आया कंपाउंडिंग ऑफ इंटरेस्ट का मतलब भी यही है धीरे-धीरे पैसा जमा होना क्या को पता है कि वारेन बफेट सिर्फ 10 साल की उम्र से ही इन्वेस्ट करते आ रहे थे unhone कभी भी अपने इंटरेस्ट का पैसा नहीं निकाला उन्होंने कई सालों तक कि पैसा जमा होने दिया और जब ये 89 ke हुए तो उनके पास एक ही 4.5 बिलियन डालर था यह उनके डिसिप्लिन or 8 दशकों की कंपाउंडिंग का नतीजा था अगर आप कैलकुलेट करें तो warren बफेट ने अपने 50 में जन्मदिन के बाद ही 84.5 billion dollor कमाया tha. ye सब कंपाउंडिंग के पावर का कमाल है इस इक्वेशन के बारे में सोचिए 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8 प्लस 8

is = 72 ye jod है लेकिन जब आप आठ को आठ से ही 9 बार मल्टीप्लाई करेंगे तो क्या होगा 8*8*8*8*8*8*8*8*8 = 13 करोड़ 42 लाख 17 हजार 728 देखा आपने कितना फर्क है warren जब 20 या 30 के थे to wo अपना पैसा यूं ही खर्च नहीं करते थे और उन्होंने 60 या 70 का होने तक इन्वेस्टिंग नहीं छोड़ी वह लगातार इन्वेस्ट करते गए उन्होंने 25 सालों तक पैसा जमा किया warren की दौलत पर कई सारी किताबें भी लिखी गई है फिर से बता दें कि उनके पास 84.5 बिलीयन डॉलर है उन्होंने 10 साल की उम्र से इन्वेस्ट करना शुरू किया था और 89 का होने तक we करते ही रहे अगर कंपाउंडिंग पर सच में कोई किताब लिखी जाए तो उसका नाम होना चाहिए शट अप एंड wait अमीर होने और अमीर रहने के बीच का ka fark toh aahiye और ek इंपॉर्टेंट चैप्टर समझ लेते हैं अमीर होने और अमीर रहने के बीच का फर्क

getting wealthy vs satying wealthy अमीर बनने के कई तरीके हो सकते हैं लेकिन अमीर बने रहने का सिर्फ एक ही तरीका है चली तो यह बात हमें दो इन्वेस्टर्स की कहानी से सीखते हैं jaise levar मोर अपने टाइम का बेस्ट स्टॉक ट्रेडर्स में से एक था वह 1877 में पैदा हुआ था जब दुनिया को पता भी नहीं था कि ट्रेडर कोई भी बन सकता है उससे पहले ही उसने खुद को एक ट्रेडर के तौर पर एस्टेब्लिश कर लिया था 30 साल की उम्र में ही जैसी ने 100 मिलियन डॉलर कमा लिए थे 1929 में स्टॉक मार्केट क्रैश हो गई थी जिसकी वजह से ग्रेट डिप्रेशन aaya उन दिनों चारों तरफ बस यही न्यूज़ छाई हुई थी वॉल स्ट्रीट के न जाने कितने ही स्टॉक ट्रेडर्स ने सुसाइड कर लिया था अक्टूबर 29th 1929 के दिन जेसी का परिवार घर पर उसका इंतजार कर रहा था उसकी वाइफ और दो बच्चे दरवाजे पर खड़े होकर उसके आने की राह देख रहे थे और उसके मदरिनलॉ बेडरूम के अंदर बैठ कर रो रही थी जैसी घर पहुंचा wo sock में था पर इसलिए नहीं कि उसका दीवाली निकल चुका था उसने अपनी वाइफ को पूरी बात बताएं हुआ यूं था कि

जैसी ने शर्त लगाई थी कि स्टॉक मार्केट नीचे आएगा और उसका अंदाजा एकदम सही निकला और वह करोड़पति बन गया उस दिन अक्टूबर 29 को उसने 3 बिलीयन डॉलर पैसे कमाए थे जब हर कोई यह शर्त लगा रहा था कि स्टॉक के रेट ऊपर जाएंगे तो उस वक्त जैसी ने भविष्यवाणी कर दी थी कि स्टॉक मार्केट नीचे गिरेगा बस फिर क्या था उस शर्त जीत गया और रातों-रात बिलिन्हेयर बन गया था पर अब्राहम चेयरमैंस की के साथ कुछ अलग कैसा हुआ अब्राहम एक अमीर रियल एस्टेट डेवलपर था 1920 यानी कि 1920 के दौरान वह मिलेनियर बन चुका था बाकी ट्रेडर्स की तरह बहन ने भी काफी बड़ी शर्त लगाई थी कि स्टॉक मार्केट ऊपर चढ़ता रहेगा स्टॉक मार्केट क्रैश के कुछ ही दिनों बाद अब्राहम गायब हो गया था दरअसल उसने सुसाइड कर लिया था |

तो फिर से jaisee lever मोड़ पर आते हैं और उसकी स्टोरी पूरी करते हैं 1929 की crash के बाद जैसी ओवरकॉन्फिडेंट और अनस्टॉपेबल हो गया एक के बाद एक बड़ी बड़ी शर्तें लगा था चला गया और जीता गया jaisee को यूं लगा कि जैसे वह हमेशा ही जीता रहेगा लेकिन 1933 में उसने स्टॉक मार्केट में अपना सारा पैसा gwa दिया जेसी कुछ दिनों के बाद गायब हो गया और उसने खुद की जान ले ली जो चीज अब्राहम के साथ हुई थी वही 4 साल बाद उसके साथ भी हुई अब्राहिम की तरह वह भी सुसाइड करने पर मजबूर हो गया था तो यहां समझा आपने दोनों आदमी अमीर तो बन गए थे पर अपनी अमीरी बरकरार नहीं रख सके पैसा कमाना है ek बात है पर उसे बनाए रखना अलग चीज है पैसा कमाने के लिए आपको बाहर निकलना पड़ेगा रिस्क लेने पड़ेंगे आपको अपनी optimisatic बनना होगा

लेकिन पैसे को बनाए रखने के लिए आपको हम्बल होना पड़ेगा आपको यह बात याद रखनी होगी कि किसी भी वक्त किसी पर सेकंड आपकी सारी दौलत छीन सकती है क्योंकि जिंदगी ऐसी ही है यहां कब क्या होगा यह कोई नहीं जानता कभी आप एकदम टॉप पर आएंगे तो कभी एकदम बॉटम पर पैसे को बनाए रखने के लिए आपको सोच समझकर पैसे का इस्तेमाल करना सीखना होगा or ye

भी एक सच है कि पैसा मेहनत से कमाया जाता है पैसे कमाने में किस्मत का भी बड़ा हाथ होता है जिंदगी में हमेशा याद रखिए कि सक्सेस हमेशा रहने वाली चीज नहीं है लाइफ में हार और नाकामयाब या दोनों मिलेंगे बीते कल की सक्सेस aane वाले सुनहरे कल की गारंटी नहीं दे सकती है अब हम वॉरेन बुफे के पास वापस चलते हैं और देखते हैं कि उन्होंने 70 साल से अपनी वेल्थ को कैसे maintaine करके रखा हुआ है उन्होंने अपना पैसा 10 सालों के लिए इन्वेस्ट किया और एक दशक से भी ज्यादा तक कंपाउंड होने दिया और 89 की उम्र में उनके पास 84.5 million dollor थे| warren को इन्वेस्टिंग आती है उन्हें पता है कि investing के लिए कौन सी कंपनी बेस्ट रहेगी उन्हें यह भी पता है कि सबसे सस्ते स्टॉक्स कौन से हैं और वह सबसे ज्यादा इफेक्टिव मैनेजर्स को जानते हैं और इसी तरह से वह एक अमीर आदमी बने लेकिन ध्यान देने वाली बात है कि warren ने अपनी wealth ko kuch is tarah se banay rakhi wo kishi ke bahkawe me nahi aaye.

उन्होंने फोर्टिन रिसेशंस भी jel लिए पर कभी भी घबरा कर अपने स्टॉक्स नहीं भेजें उन्होंने अपनी रेपुटेशन दांव पर नहीं लगाई उन्होंने खुद को kisi ek strategy एक ओपिनियन ya ek पासिंग ट्रेड तक ही सीमित नहीं रखा उन्होंने कभी भी quite नहीं किया और ना ही रिटायर हुए 65 साल के बाद भी वह कंपाउंडिंग करते रहे और इस तरह वरन सरवाइव kar gaye. तो कुल मिलाकर के यहां सिर्फ साइकॉलजी ऑफ मनी की बात नहीं है साइकॉलजी ओप winnings साइकॉलजी ऑफ सेटिस्फेक्शन यानी human बिहेवियर भी यहां पर आता है तो आइए फटाफट कंक्लूजन को समझ लेते हैं

और दोहरा लेते हैं इस books summary ki लर्निंग को अपने बुक समरी में उसी young जीनियस की कहानी पढ़ी जिसने $1000 गोल्ड कॉइन इसको समुद्र में फेंक दिए थे आपने इस बुक समरी में रोना रीड की कहानी भी पड़ी जिससे एक मामूली सा चौकीदार होने के बावजूद $8 मिलियन डॉलर डोनेट कर दिए थे आपने हावर्ड एमबीए ग्रैजुएट और रियल एस्टेट इन्वेस्टर richard के बारे में भी पढ़ा जिसने 2008 ke crisis me sub गवा दिया था पर आपने इस किताब में रजत गुप्ता की भी कहानी पड़ी जिसके पास 100$ मिलियन डॉलर होने के बावजूद उसे 1 बिलियन डॉलर और चाहिए थे is book में आपने जे jaisee lever more or aibrahim jaimris की कहानी सुनी inme se दिन के $3 billion dollor था जबकि दूसरा अपना सारा पैसा गवा बैठा था बाद में दोनों लोगों ने सुसाइड कर लिया था

और aakhir मैं aapne is book मेंwarren buffe ke baare me bhi pda tha तो इन सारे लोगों में आप kinke जैसा बनना चाहेंगे ye books summary हमें याद दिलाती है कि जिंदगी में reputation, freedom, family, pyaar और खुशी ही सबसे कीमती चीज है जो पैसे पावर और fem से कहीं बढ़कर है ye समरी ye भी याद दिलाती है कि दुनिया गोल है और हार और जीत जिंदगी का एक हिस्सा है कभी हमारे पास सब कुछ होता है और कभी कुछ भी नहीं अमीर बनने के कई सारे तरीके हैं पर अपनी अमीरी बरकरार रखने का सिर्फ एक तरीका है इसीलिए हमबल बने पैसे की वैल्यू समझें और जो आपके पास है

उस में खुश रहना सीखें ठीक है उनसे आप बेहद प्यार करते हैं उनके साथ वक्त गुजारना सीखें क्योंकि परिवार और सच्चे दोस्त ही इंसान का सबसे बड़ा खजाना होते हैं तो मिस करते हैं कि यह बुक समरी हमारे जहन पर हमारे दिलों दिमाग पर एक पॉजिटिव असर डालेगी और आपको जरूर पसंद आई होगी कितनी अच्छी लगी आपको यह बुक समरी आपने इस बुक समरी से स्पेशली क्या सीखा कमेंट सेक्शन में जरूर लिखें आपके फ़ीडबैक आपके कॉमेंट हमारा हौसला बढ़ाते हैं और उन से कईयों को सीखने को मिलता है तो आपके फ़ीडबैक और आपके कमेंट का इंतजार रहेगा मैं बुक समरी आप कौन से सुनना चाहेंगे आप हमें यह भी सजेस्ट कर सकते हैं बहुत जल्द एक नई समरी के साथ फिर होगी आपसे मुलाकात तब तक कि अपना बेहतर खयाल सुनते रहेगी गर्ल को और इन लर्निंग को नोट करते जाइए लाइफ में इंक्रीमेंट करते रहिए और हम रियल स्टोरीज के बारे में आपके बारे में सब को बताते रहिए क्योंकि नॉलेज और लर्निंग पर सबका हक है गिग्लर अमित वाधवा का नमस्कार जय हिंद जय भारत 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *